पंजाब आवास योजना 2019 | बेघर लोगों को सरकार द्वारा दिए जाएंगे 1 लाख प्लॉट

पंजाब आवास योजना 2019 | Punjab Awas Yojana 2019 | Punjab Latest Scheme | Pradhan Mantri Awas Yojana Punjab | PM Awas Yojana Punjab | Punjab Awas Yojana In Hindi

पंजाब सरकार द्वारा बेघर परिवारों को 1300 बर्ग फुट के 1 लाख प्लॉट प्रदान करवाएं जाएंगे| पंजाब के मुख्यमंत्री श्री अमरिंदर सिंह द्वारा यह घोषणा की गई है| यह प्लॉट पंजाब आवास योजना 2019 (Punjab Awas Yojana 2019) के तहत प्रदान करवाए जाएंगे|

राज्य सरकार द्वारा हर गांव में अनुसूचित जाति (SC) के परिवारों को 5 मरला (Marlas) के कम से कम 10 प्लॉट आवंटित किए जाएंगे| पंजाब आवास योजना 2019 (Punjab Awas Yojana 2019) के लिए ग्राम पंचायत के जमीन उपलब्ध रहना जरूरी है|

यदि पंचायत के पास पंचायती जमीन उपलब्ध नहीं हो पाती है तो फिर राज्य सरकार द्वारा पहले जमीन की व्यवस्था की जाएगी|  उसके बाद प्रधानमंत्री आवास योजना पंजाब (Pradhan Mantri Awas Yojana Punjab) के तहत परिवारों को प्लॉट प्रदान करवाए जाएंगे|

पंजाब आवास योजना 2019

Punjab Awas Yojana 2019

Note :-  Punjab Latest Scheme

पंजाब आवास योजना 2019 का विवरण

  • पंजाब के मुख्यमंत्री श्री अमरिंदर सिंह द्वारा इस योजना की घोषणा की गई है|
  • यह घोषणा 22 जनवरी 2019 को एक मीटिंग के दौरान की गई है|
  • मुख्यमंत्री जी द्वारा यह कहा गया कि बेघर दलित परिवारों को 1300 बर्ग फुट के प्लॉट प्रदान करवाए जाएंगे|
  • अधिकतम 1 लाख प्लॉट प्रदान करवाए जाएंगे|
  • पंजाब सरकार जरूरी योजनाओं को ठीक समय पर पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास करेगी|
  • मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह जी द्वारा यह भी कहा गया है|
  • जल्द ही यह योजना आरंभ कर दी जाएगी|

पंजाब आवास योजना 2019 के लाभ

  • इस योजना का गरीब दलित परिवारों को बहुत लाभ होगा|
  • राज्य सरकार द्वारा गरीब दलित परिवारों को प्लॉट प्रदान करवाए जाएंगे|
  • सरकार द्वारा अधिकतम 1 लाख प्लॉट प्रदान करवाए जाएंगे|
  • यह प्लॉट पंजाब आवास योजना 2019 (Punjab Awas Yojana 2019) के तहत प्रदान करवाए जाएंगे|

अन्य किसी भी प्रकार की जानकारी तथा सहायता के लिए आप नीचे दिए गए कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट कर सकते हैं|

Share

2 thoughts on “पंजाब आवास योजना 2019 | बेघर लोगों को सरकार द्वारा दिए जाएंगे 1 लाख प्लॉट

Leave a Reply

Your email address will not be published.