केरल हेल्थ पॉलिसी 2019 | Kerala Health Policy 2019

केरल हेल्थ पॉलिसी 2019 :- केरल सरकार द्वारा एक बहुत ही अच्छी योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के अंतर्गत छोटे बच्चों के लिए टीकाकरण कार्ड जारी किए जाएंगे। पहली कक्षा में प्रवेश पाने के लिए यह कार्ड अति आवश्यक होगा। इस कार्ड के बिना छात्र का स्कूल में प्रवेश वर्जित है। केरल सरकार द्वारा यह एक नई योजना आरंभ की गई है।

यदि बच्चों के माता-पिता बच्चों का स्कूल में प्रवेश चाहते हैं। तो उन्हें बच्चों को समय पर टीका लगवाना होगा। इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह भी है कि इस से बच्चों की मृत्यु दर कम होगी। राज्य सरकार स्वास्थ्य योजना के तहत उन माता-पिताओं के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जो माता पिता बच्चों को टीका नहीं लगवाएंगे।

केरल हेल्थ पॉलिसी 2019

केरल हेल्थ पॉलिसी 2019

राज्य सरकार ने टीकाकरण कार्यक्रम आरंभ करके एक बहुत ही अच्छी योजना की शुरुआत की है। आजकल हर माता-पिता यही चाहते हैं कि उनके बच्चे अच्छे स्कूल में जाएं तथा अच्छे से पढ़े।राज्य सरकार द्वारा यह एक बहुत ही अच्छी योजना की शुरुआत है।

बिना टीकाकरण के बच्चों का स्कूल में प्रवेश वर्जित है।अतः स्कूल में प्रवेश पाने के लिए उन्हें टीकाकरण करवाना ही होगा। अतः इससे बच्चे कई बीमारियों से बचेंगे। इस योजना का पूरा विवरण तथा इसके लाभ आप नीचे पढ़ सकते हैं।

केरल हेल्थ पॉलिसी 2019 का विवरण

  • जैसा कि हम सभी जानते हैं कि केरल का स्वास्थ्य क्षेत्र अन्य राज्यों के लिए एक आदर्श रहा है।
  • राज्य सरकार द्वारा  सभी जिला अस्पतालों में ट्रांसजेंडर क्लीनिक भी स्थापित किए जाएंगे।
  • दुर्घटना पीड़ितों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए राज्य और राष्ट्रीय राजमार्गों पर हर 10 किलोमीटर की दूरी पर ट्रामा केयर सेंटर स्थापित किए जाएंगे।
  • केरल की आबादी का लगभग 3% हिस्सा विकलांगता से ग्रस्त है।
  • इसलिए उनके पुनर्वास के लिए भी कदम उठाए जाएंगे|
  • स्वास्थ्य संबंधित अन्य मुद्दों को भी संबोधित किया जाएगा।
  • राज्य सरकार द्वारा एक एंटीबायोटिक पॉलिसी भी आरंभ की जा रही है।
  • जिसके तहत डॉक्टरों को उनके पर्चे में दवाइयों के सामान्य नामों को लिखना होगा।
  • स्वास्थ्य क्षेत्र में सभी मुद्दों को कवर करने के लिए एक नया केरल लोक स्वास्थ्य अधिनियम शुरू किया जाएगा|
  • जैसे कि केरल अस्पताल रोजाना 50 टन बायो मेडिकल कचरे का निर्माण करता है।
  • सरकार द्वारा एक व्यापक सूचना प्रणाली भी तैयार की जाएगी।
  • जिसमें सभी अस्पतालों के सभी रोगियों के मेडिकल रिकॉर्ड होंगे।
  • नई स्वास्थ्य नीति कई मेडिकल कॉलेजों में अनुसंधान गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए सुनिश्चित की जाएगी|
  • सरकार डॉक्टरों की निजी प्रैक्टिस पर भी प्रतिबंध लगाएगी।
  • पहली कक्षा में दाखिला लेने के लिए टीकाकरण प्रमाण पत्र अनिवार्य कर दिया गया है
  • स्वास्थ्य मंत्री द्वारा भी मंगलवार को कहा गया कि सरकार केरल में कुल टीकाकरण प्राप्त करने के लिए प्रतिबद्ध है
  • लैब और इमेजिंग सेक्टरों को भी सुदृढ़ बनाने के लिए प्रद्योगिकी परिषद का भी गठन किया जाएगा।
  • कुल मिलाकर अगर केरल की अवादी में देखा जाए तो लगभग 2% लोग मानसिक बीमारियों से पीड़ित हैं
  • केंद्रीय जैव चिकित्सा कचरा उपचार और निपटान की सुविधा भी स्थापित की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत बच्चों को टीका लगवाना जरूरी है तथा बच्चों के टीकाकरण कार्ड बनवाना भी आवश्यक है

केरल हेल्थ पॉलिसी 2019 के लाभ

  • इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि बच्चों को समय पर टीका लगाया जाएगा। इससे बच्चे स्वस्थ रहेंगे।
  • राज्य सरकार द्वारा आरंभ की गई इस योजना से लोगों में जागरुकता आएगी
  • 5 वर्ष से कम आयु के सभी बच्चों को इस योजना द्वारा टीकाकरण प्राप्त होगा
  • अस्पतालों में हो रहे भ्रष्टाचार को रोकने के लिए भी केरल सरकार कड़े कदम उठाएगी
  • इस हेल्थ पॉलिसी से केरल के स्वास्थ्य क्षेत्र में काफी सुधार होगा
  • इसके अलावा केंद्र सरकार स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत ट्रांसजेंडर के लिए योन पुनर्गठन सर्जरी भी प्रदान करेगा
Share

1 thought on “केरल हेल्थ पॉलिसी 2019 | Kerala Health Policy 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *